भावनायें कवयित्री की…..

unnamed

Poetess can understand the pain of every aspects of life and she has a power to depict the same in her poetries.

हवाओं में छुपे ज्ञान को कवयित्री,
अपनी कविताओं में, बंद कर देती हैं।
करके रात दिन इन घटाओं से बातें,
वो किसीसे कुछ नही लेती हैं।
अपने भावों को बताने में,
ना जाने कितनी परीक्षा, वो जीवन की देती हैं।
हर एक पल, उसे ज़िन्दगी कुछ सिखाती हैं।
अपनी कविताओं के ज़रिये,
वो दूसरों को भी जगाती हैं।
कोई सीखें उससे,
तो कोई उसकी मज़ाक उड़ाता हैं।
जीवन के हर रंग रूप को देख,
उसे फिर भी मज़ा आता हैं।

Prerna Mehrotra Gupta
25/5/2017

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s