ईमानदारी से खेलो

 

Bluetooth Exchange Folder1

There is no short cut of success.

इस लम्हें को इस लम्हें में,
तू खुल के जीले।
अगर करी हैं तूने ,ईमानदारी से मेहनत,
तो आने वाली जीत का जाम,
तू अभी से पीले।

तेरे कर्म का सच बस तू ही जनता हैं।
अच्छे रास्ते पर चलने वालो को,
ये जग भी मानता हैं।
अपने हित के लिए, किसी का बुरा ना करना।
महंगा पड़ता ,अपना वार ही वरना।

मेहनत से पनपे भोजन का,
स्वाद ही अलग होता हैं।
जो करता है इसमें मिलावट,
आजीवन वो सुख के लिए रोता हैं।

 

Prerna Mehrotra Gupta
26/5/2017

Advertisements

पहले खुद में झाको

1546000_1038681389507503_7939784144998794835_n

Be an inspiration for others….

एक ही लक्ष्य थाम कर,
ज़िन्दगी में आगे बढ़ना।
दूसरों को बताना बाद में,
पहले तुम खुद ही,
अपने लक्ष्य की सीढ़ी चढ़ना।
बिना खुद कुछ पाये जो,
दूसरो को राह दिखता हैं।
अपनी मंज़िल के रास्ते का काटा,
वो खुद ही बन जाता हैं।
अपने सफर में, सबको अपनी उगली थामे,
आगे बढ़ते जाना हैं।
खुदकी मंज़िल पाके,
हमें दूसरों के जीवन में भी ,
उम्मीद का दिया जलाना हैं।
लेकिन सबसे पहले तुम्हें,
अपना हौसला जगाना हैं.
जिसे देखने को बेचैन ,
बैठा ये सारा ज़माना हैं।

Prerna Mehrotra Gupta
22/5/2017

तुम भी कर सकते हो

DSC_0326

भावनाओं की बारिश,
दूसरे पर गिर कर भी,
हमें भिगों देती है।
शांति से सिखाकर पहले ,आने वाले कल में,
परीक्षा वो लेती हैं।
आज किसी पे बीती,
कल तुम पर भी बीत सकती हैं।
अपनी चीज़ो को भूल,
दूसरों की चीज़े ही क्यों सबको अच्छी लगती हैं??
इस दुनियाँ में हर कोई,अपनी मेहनत का, ही तो खाता हैं।
हर एक चीज़ जोड़ने में, हर एक का पूरा जीवन लग जाता है।
किसने रोका तुम्हें मेहनत करने से…
तुम्हे ही फुरसत नहीं, दूसरों के नोट गिनने से।
किसी और के नोट गिनने से,
तुम्हारा बटुआ तो भर नही जायेगा।
रहेगा अपने काम में जो मगन,
सुख की रोटी, बस वही जीवन में खायेगा।

 

Prerna Mehrotra Gupta
20/5/2017

ना केवल नारी अच्छी, ना ही केवल नर अच्छा।

IMG-20140930-WA0007

Neither boys nor girls are good it is a person who struggle most in life will enjoy most benefit in life.

ना केवल नारी अच्छी,
ना ही केवल नर अच्छा।
रखे जो खुद पर नियंत्रण,
केवल वही मानव है सच्चा।
जो अपने को ठीक करने में,
दुनियाँ को भूल जाता हैं।
अपनी ही नहीं,
वो दूसरों की भी,
जीत का कारण बन जाता हैं।
एक दिन में,ऐसा बदलाव,
मानव के जीवन में आता नहीं।
रोज़ सवारे जो खुदको,
वो जीवन की ठोकरें, इतनी खाता नहीं।
आज मैं जो भी हूँ,
कल उससे बेहतर होजाऊँगी।
अपनी इसी सोच के कारण,
एक दिन मैं भी बहुत कुछ हासिल कर जाऊँगी।
उसकी नीव रखनी होगी आज से,
फल मिलता हमेशा, मेहनत के काम, काज से।
असफल हुये, तो कभी बैठ ना जाना।
भले मिले चाहे कितने भी गम,
हताश होकर भी, बस अपनी मेहनत की खाना।

 
Prerna Mehrotra Gupta
28/4/2017

टैलेंट

guitar1cute-boy-playing-guitar-love

मुफ्त के टैलेंट की
कदर इस दुनिया में
पहले कौन करता है।
ठुकराकर महफ़िल में
सरे आम बदनाम तू पहले
उसे क्यों करता है।
एक बार करके तो
देख-उस टैलेंट
की कदर।
मचाना बंद कर
अब तू ये ग़दर।
वो टैलेंट भी तुझसे
कुछ कहना चाहता है।
अपनी भवनाओं से
तुझे भी वो प्रेरित
करना चाहता है।
तू मौका तो दे
उन भवनाओं को।
लगने तो दे तट
पर उन बहती
हुई नाओं को।
आज की जंग तू
उसे आज ही जीतने
दे -उसके पंखो को भी
उड़नेका मौका
अब तू दे ।

Prerna Mehrotra
1/10/2014